भारत के महान्यायवादी से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्न  | भारत का महान्यायवादी

भारत के महान्यायवादी से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्न 

1. भारतीय संविधान के किस अनुच्छेद के तहत भारत में महान्यायवादी का पद सृजन किया गया है?
a. अनुच्छेद 76 
b. अनुच्छेद 80
c. अनुच्छेद 72
d. अनुच्छेद 78

महान्यायवादी भारत सरकार का सर्वोच्च विधिक अधिकारी होता है। यह भारत सरकार को विधिक मामलों में परामर्श देता है। और न्यायालय में भारत सरकार का प्रतिनिधित्व भी करता है।।

2. महान्यायवादी की नियुक्ति कौन करता है?
a. प्रधानमंत्री
b. उपराष्ट्रपति
c. मुख्यन्यायधीश
d. राष्ट्रपति 

अनुच्छेद 76(1) के तहत राष्ट्रपति मंत्रिपरिषद की सहायता से महान्यायवादी की नियुक्ति करता है। और राष्ट्रपति के प्रसाद पर्यन्त अपने पद पर बना रहता है।

3. उस व्यक्ति को महान्यायवादी नियुक्त किया जा सकता है जो…
a. लोकसभा का सदस्य नियुक्त होने की योग्यता रखता हो
b. राज्यसभा का सदस्य नियुक्त होने की योग्यता रखता हो
c. उच्चतम न्यायालय का न्यायाधीश बनने की योग्यता रखता हो 
d. इनमें से कोई नही

4. किस अनुच्छेद के तहत यह कहा गया है कि महान्यायवादी संसद के दोनों सदनों में भाग ले सकता है?
a. अनुच्छेद 76
b. अनुच्छेद 80
c. अनुच्छेद 88 
d. अनुच्छेद 78

महान्यायवादी दोनों सदनों में भाग तो ले सकता है पर वह मतदान नही कर सकता है।

5. भारत के प्रथम महान्यायवादी कौन थे?
a. जी. रामास्वामी
b. एम.सी. सीतलवाड़ 
c. सोली सोराबजी
d. अशोक देसाई

6. भारत के प्रथम विधि मंत्री कौन थे?
a. डॉ. भीम राव अंबेडकर 
b. हरि ओम शर्मा
c. के. पाराशरन
d. मुकुल रोहतगी

भारतीय संविधान की अनुसूचियां 

भारतीय संविधान का विकास

भारत  के  प्रधानमन्त्री से सम्बन्धित  महत्वपूर्ण  प्रश्न

महत्वपूर्ण बिंदु:-
महान्यायवादी मंत्रिमंडल का सदस्य नही होता है।
महान्यायवादी भारत सरकार के खिलाफ कोई सलाह नही देता है और ना ही किसी मुकदमे की पैरवी करता है।

2 thoughts on “भारत के महान्यायवादी से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्न  | भारत का महान्यायवादी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: